Home LAW धारा 7 विनिर्दिष्ट अनुतोष | Section 7 of Specific relief act in...

धारा 7 विनिर्दिष्ट अनुतोष | Section 7 of Specific relief act in Hindi

1697
0

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “विनिर्दिष्ट जंगम सम्पत्ति का प्रत्युद्धरण | विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम की धारा 7 क्या है | Section 7 Specific relief act in Hindi | Section 7 of Specific relief act | धारा 7 विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम | Recovery of specific movable property के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम की धारा 7 |  Section 7 of Specific relief act

[ Specific relief act Sec. 7 in Hindi ] –

विनिर्दिष्ट जंगम सम्पत्ति का प्रत्युद्धरण-

जो व्यक्ति किसी विनिर्दिष्ट जंगम सम्पत्ति के कब्जे का हकदार हो, वह सिविल प्रक्रिया संहिता, 1908 (1908 का 5) द्वारा उपयन्धित प्रकार से उसका प्रत्युद्धरण कर सकेगा।

स्पष्टीकरण 1-न्यासी ऐसी जंगम सम्पत्ति के कब्जे के लिए इस धारा के अधीन वाद ला सकेगा, जिसमें के फायदाप्रद हित का वह व्यक्ति हकदार हो जिसके लिए वह न्यासी है।

स्पष्टीकरण 2-जंगम सम्पत्ति पर वर्तमान कब्जे का कोई विशेष या अस्थायी अधिकार इस धारा के अधीन वाद के समर्थन के लिए पर्याप्त है।

धारा 7 Specific relief act

[ Specific relief act Sec. 7 in English ] –

“Recovery of specific movable property”–

A person entitled to the possession of specific movable property may recover it in the manner provided by the Code of Civil Procedure, 1908 (5 of 1908).

Explanation 1.—A trustee may sue under this section for the possession of movable property to the beneficial interest in which the person for whom he is trustee is entitled.

Explanation 2.—A special or temporary right to the present possession of movable property is sufficient to support a suit under this section.

धारा 7 Specific relief act

Specific relief Act Pdf download in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here