धारा 47 सम्पत्ति अन्तरण | Section 47 of Transfer of property Act Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “सामान्य संपत्ति में के अंश का सहस्वामियों द्वारा अंतरण | सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 47 क्या है | Section 47 Transfer of property Act in hindi | Section 47 of Transfer of property Act | धारा 47 सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम | Transfer by co-owners of share in common property के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 47 |  Section 47 of Transfer of property Act | Section 47 Transfer of property Act in Hindi

[ Transfer of property Act Section 47 in Hindi ] –

सामान्य संपत्ति में के अंश का सहस्वामियों द्वारा अंतरण-

जहां कि स्थावर सम्पत्ति के कई सहस्वामी उसमें के किसी अंश को यह विनिर्दिष्ट किए बिना अन्तरित करते हैं कि वह अन्तरण उन अन्तरकों के किसी विशिष्ट अंश या अंशों पर प्रभावी होना है वहां ऐसा अन्तरण, जहां तक कि ऐसे अन्तरकों के बीच का सम्बन्ध है, ऐसे अंशों पर, जहां कि वे अंश बराबर थे, वहाँ बराबर-बराबर और, जहां कि वे अंश बराबर नहीं थे, वहां ऐसे अंशों के विस्तार के अनुपात में प्रभावी होता है।

दृष्टांत

सुलतानपुर मौजे में क, जो आठ आने के अंश का स्वामी है, और ख और ग, जो हर एक चार-चार आने के स्वामी हैं उस मौजे का दो आना अंश यह विनिर्दिष्ट किए बिना घ को अन्तरित कर देते हैं कि उनके विभिन्न अंशों मे किस में से यह अन्तरण किया गया है। उस अन्तरण को प्रभावी करने के लिए क के अंश से एक आना अंश ख और ग के अंशों में से आध-आध आना अंश लिया जाएगा।

धारा 47 Transfer of property Act

[ Transfer of property Act Sec. 47 in English ] –

Transfer by co-owners of share in common property ”–

Where several co-owners of immoveable property transfer a share therein without specifying that the transfer is to take effect on any particular share or shares of the transferors, the transfer, as among such transferors, takes effect on such shares equally where the shares were equal, and where they were unequal, proprotionately to the extent of such shares. 

Illustration

A, the owner of an eight-anna share, and B and C, each the owner of a four-anna share, in mauzaSultanpur, transfer a two-anna share in the mauza to D, without specifying from which of their several shares the transfer is made. To give effect to the transfer one-anna share is taken from the share of A, and half-an-anna share from each of the shares of B and C. 

धारा 47 Transfer of property Act 

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम  

Pdf download in hindi

Transfer of property Act

Pdf download in English 

Pocso Act sections listDomestic violence act sections list
Updated: May 25, 2020 — 2:00 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.