Home LAW धारा 462 CrPC | Section 462 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 462 CrPC | Section 462 CrPC in Hindi | CrPC Section 462

2060
0

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “गलत स्थान में कार्यवाही | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 462 क्या है | section 462 CrPC in Hindi | Section 462 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 462 | Proceedings in wrong place के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 462 |  Section 462 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 462 in Hindi ] –

गलत स्थान में कार्यवाही-

किसी दंड न्यायालय का कोई निष्कर्ष, दंडादेश या आदेश केवल इस आधार पर कि वह जांच, विचारण या अन्य कार्यवाही जिसके अनुक्रम में उस निष्कर्ष पर पहुंचा गया था या वह दंडादेश या आदेश पारित किया गया था, गलत सेशन खंड, जिला, उपखंड या अन्य स्थानीय क्षेत्र में हुई थी उस दशा में ही अपास्त किया जाएगा जब यह प्रतीत होता है कि ऐसी गलती के कारण वस्तुतः न्याय नहीं हो पाया है।

धारा 462 CrPC

[ CrPC Sec. 462 in English ] –

“Proceedings in wrong place ”–

No finding, sentence or order of any Criminal Court shall be set aside merely on the ground that the inquiry, trial or other proceedings in the course of which it was arrived at or passed, took place in a wrong sessions division, district, sub- division or other local area, unless it appears that such error has in fact occasioned a failure of justice.

धारा 462 CrPC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here