Home LAW धारा 280 CrPC | Section 280 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 280 CrPC | Section 280 CrPC in Hindi | CrPC Section 280

1129
0
section 280 CrPC in Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको साक्षी की भावभंगी के बारे में टिप्पणियां | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 280 क्या है | section 280 CrPC in Hindi | Section 280 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 280 | Remarks respecting demeanour of witnessके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 280 |  Section 280 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 280 in Hindi ] –

साक्षी की भावभंगी के बारे में टिप्पणिया-

जब पीठासीन न्यायाधीश या मजिस्ट्रेट साक्षी का साक्ष्य अभिलिखित कर लेता है तब वह उस साक्षी की परीक्षा किए जाते समय उसकी भावभंगी के बारे में ऐसी टिप्पणियां भी अभिलिखित करेगा (यदि कोई हों), जो वह तात्त्विक समझता है।

धारा 280 CrPC

[ CrPC Sec. 280 in English ] –

“Remarks respecting demeanour of witness ”–

 When a presiding Judge or Magistrate has recorded the evidence of a witness, he shall also record such remarks (if any) as he thinks material respecting the demeanour of such witness whilst under examination.

धारा 280 CrPC

  •  Mp rashtriy udhan part 1

    BUY

     

    BUY

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here