Home LAW धारा 115 सम्पत्ति अन्तरण | Section 115 of Transfer of property Act

धारा 115 सम्पत्ति अन्तरण | Section 115 of Transfer of property Act

990
0
Section 115 of Transfer of property Act

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “ अभ्यर्पण और समपहरण का उपपट्टों पर प्रभाव | सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 115 क्या है | Section 115 Transfer of property Act in hindi | Section 115 of Transfer of property Act | धारा 115 सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम | Effect of surrender and forfeiture on under-leases. के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 115 |  Section 115 of Transfer of property Act | Section 115 Transfer of property Act in Hindi

[ Transfer of property Act Section 115 in Hindi ] –

अभ्यर्पण और समपहरण का उपपट्टों पर प्रभाव-

स्थावर सम्पत्ति के पट्टे के अभिव्यक्त या विवक्षित अभ्यर्पण का प्रतिकूल प्रभाव सम्पत्ति के या उसके किसी भाग के ऐसे उपपट्टे पर नहीं पड़ता, जो पट्टेदार द्वारा उन निबंधनों और शर्तों पर पहले ही अनुदत्त कर दिया गया है जो (भाटक की रकम के बारे में के सिवाय) सारतः वे ही हैं, जो मूल पट्टे की हैं, किंतु जब तक कि यह अभ्यर्पण नया पट्टा अभिप्राप्त करने के प्रयोजन से न किया गया हो उपपट्टेदार द्वारा देय भाटक और उसे आबद्ध करने वाली संविदाएं क्रमश: पट्टाकर्ता को देय और उसके द्वारा प्रवर्तनीय रहेंगी।

ऐसे पट्टे का समपहरण ऐसे सब उपपट्टे को वहां के सिवाय बातिल कर देता है जहां कि ऐसा समपहरण पट्टाकर्ता द्वारा उपपट्टेदारों को कपटवंचित करने के लिए उपाप्त किया गया है या जहां कि समपहरण से मुक्ति धारा 114 के अधीन अनुदत्त की गई है।

धारा 115 Transfer of property Act

[ Transfer of property Act Sec. 115 in English ] –

Effect of surrender and forfeiture on under-leases.”–

The surrender, express or implied, of a lease of immoveable property does not prejudice an under-lease of the property or any part thereof previously granted by the lessee, on terms and conditions substantially the same (except as regards the amount of rent) as those of the original lease; but, unless the surrender is made for the purpose of obtaining a new lease, the rent payable by, and the contracts binding on, the under-lessee shall be respectively payable to and enforceable by the lessor. 

The forfeiture of such a lease annuls all such under-leases, except where such forfeiture has been procured by the lessor in fraud of the under-lessees, or relief against the forfeiture is granted under section 114.

धारा 115 Transfer of property Act 

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम  

Pdf download in hindi

Transfer of property Act

Pdf download in English 

Pocso Act sections list Domestic violence act sections list

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here