Home LAW धारा 8 दहेज प्रतिषेध | Section 8 Dowry prohibition act in Hindi

धारा 8 दहेज प्रतिषेध | Section 8 Dowry prohibition act in Hindi

2336
0

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “अपराधों का कुछ प्रयोजनों के लिए संज्ञेय होना तथा जमानतीय और अशमनीय होना | दहेज प्रतिषेध अधिनियम की धारा 8 क्या है | Section 8 Dowry prohibition act in Hindi | Section 8 of Dowry prohibition act | धारा 8 दहेज प्रतिषेध अधिनियम | Offences to be cognizable for certain purposes and to be 2[non-bailable] and non-compoundableके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दहेज प्रतिषेध अधिनियम की धारा 8 |  Section 8 of Dowry prohibition act

[ Dowry prohibition act Sec. 8 in Hindi ] –

अपराधों का कुछ प्रयोजनों के लिए संज्ञेय होना तथा जमानतीय और अशमनीय होना—

(1) दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 (1974 का 2) इस अधिनियम के अधीन अपराधों को वैसे ही लागू होगी मानो वे

(क) ऐसे अपराधों के अन्वेषण के प्रयोजनों के लिए: और (ख) निम्नलिखित से भिन्न विषयों के प्रयोजनों के लिए

(i) उस संहिता की धारा 42 में विनिर्दिष्ट विषय और

() किसी व्यक्ति को वारण्ट के बिना या मजिस्ट्रेट के किसी आदेश के बिना गिरफ्तारी, संज्ञेय अपराध हों।

(2) इस अधिनियम के अधीन प्रत्येक अपराध [अजमानतीय] और अशमनीय होगा।

धारा 8 Dowry prohibition act

[ Dowry prohibition act Sec. 8 in English ] –

“ Offences to be cognizable for certain purposes and to be 2[non-bailable] and non-compoundable”–

(1) The Code of Criminal Procedure, 1973 (2 of 1974), shall apply to offences under this Act as if they were cognizable offences—

(a) for the purposes of investigation of such offences; and
(b) for the purposes of matters other than—

(i) matters referred to in section 42 of that Code; and
(ii) the arrest of a person without a warrant or without an order of a Magistrate.
(2) Every offence under this Act shall be 3[non-bailable] and non-compoundable.

धारा 8 Dowry prohibition act

दहेज प्रतिषेध अधिनियम 

Pdf download in hindi

Dowry prohibition act 

Pdf download in English 

Section 1 of limitation act Section 1 of limitation act

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here