Home LAW धारा 482 CrPC | Section 482 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 482 CrPC | Section 482 CrPC in Hindi | CrPC Section 482

2604
0

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “उच्च न्यायालय की अन्तर्निहित शक्तियों की व्यावृत्ति | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 482 क्या है | section 482 CrPC in Hindi | Section 482 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 482 | Saving of inherent powers of High Courtके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 482 |  Section 482 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 482 in Hindi ] –

उच्च न्यायालय की अन्तर्निहित शक्तियों की व्यावृत्ति-

इस संहिता की कोई बात उच्च न्यायालय की ऐसे आदेश देने की अन्तर्निहित शक्ति को सीमित या प्रभावित करने वाली न समझी जाएगी जैसे इस संहिता के अधीन किसी आदेश को प्रभावी करने के लिए या किसी न्यायालय की कार्यवाही का दुरुपयोग निवारित करने के लिए या किसी अन्य प्रकार से न्याय के उद्देश्यों की प्राप्ति सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक हो।

धारा 482 CrPC

[ CrPC Sec. 482 in English ] –

“Saving of inherent powers of High Court ”–

Nothing in this Code shall be deemed to limit or affect the inherent powers of the High Court to make such orders as may be necessary to give effect to any order under this Code, or to prevent abuse of the process of any Court or otherwise to secure the ends of justice.

धारा 482 CrPC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here