Home LAW धारा 35 विनिर्दिष्ट अनुतोष | Section 35 of Specific relief act in...

धारा 35 विनिर्दिष्ट अनुतोष | Section 35 of Specific relief act in Hindi

2182
0

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “घोषणा का प्रभाव | विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम की धारा 35 क्या है | Section 35 Specific relief act in Hindi | Section 35 of Specific relief act | धारा 35 विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम | Effect of declarationके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

विनिर्दिष्ट अनुतोष अधिनियम की धारा 35 |  Section 35 of Specific relief act

[ Specific relief act Sec. 35 in Hindi ] –

घोषणा का प्रभाव-

इस अध्याय के अधीन की गई घोषणा केवल वाद के पक्षकार और उनसे व्युत्पन्न अधिकार के द्वारा दावा करने वाले व्यक्तियों को ही आवद्ध करती है और जहाँ कि पक्षकारों में से कोई पक्षकार न्यासी हो वहाँ उन व्यक्तियों को ही आबद्ध करती है जिनके लिए ऐसे पक्षकार न्यासी होते यदि घोषणा की तारीख को उनका अस्तित्व होता।

धारा 35 Specific relief act

[ Specific relief act Sec. 35 in English ] –

“ Effect of declaration ”–

A declaration made under this Chapter is binding only on the parties to the suit, persons claiming through them respectively, and, where any of the parties are trustees, on the persons for whom, if in existence at the date of the declaration, such parties would be trustees.

 

धारा 35 Specific relief act

Specific relief Act Pdf download in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here