Home LAW धारा 25 CrPC | Section 25 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 25 CrPC | Section 25 CrPC in Hindi | CrPC Section 25

1969
0
section 25 CrPC in Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “ सहायक लोक अभियोजक | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 25 क्या है | section 25 CrPC in Hindi | Section 25 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 25 | Assistant Public Prosecutors के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 25 |  Section 25 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 25 in Hindi ] –

सहायक लोक अभियोजक—

(1) राज्य सरकार प्रत्येक जिले में मजिस्ट्रेटों के न्यायालयों में अभियोजन का संचालन करने के लिए एक या अधिक सहायक लोक अभियोजक नियुक्त करेगी।

(1क) केंद्रीय सरकार मजिस्ट्रेट के न्यायालय में किसी मामले या किसी वर्ग के मामलों के संचालन के प्रयोजनों के लिए एक या अधिक सहायक लोक अभियोजक नियुक्त कर सकती है।]

(2) जैसा उपधारा (3) में उपबंधित है उसके सिवाय, कोई पुलिस अधिकारी सहायक लोक अभियोजक नियुक्त होने का पात्र होगा।

(3) जहाँ कोई सहायक लोक अभियोजक किसी विशिष्ट मामले के प्रयोजनों के लिए उपलभ्य नहीं है वहां जिला मजिस्ट्रेट किसी अन्य व्यक्ति को उस मामले का भारसाधक सहायक लोक अभियोजक नियुक्त कर सकता है : परंतु कोई पुलिस अधिकारी इस प्रकार नियुक्त नहीं किया जाएगा

(क) यदि उसने उस अपराध के अन्वेषण में कोई भाग लिया है, जिसके बारे में आयुक्त अभियोजित किया जा रहा है, या

(ख) यदि वह निरीक्षक की पंक्ति से नीचे का है।

धारा 25 CrPC

[ CrPC Sec. 25 in English ] –

“ Assistant Public Prosecutors  ”–

(1) The State Government shall appoint in every district one or more Assistant Public Prosecutors for conducting prosecutions in the Courts of Magistrates.
(1A) 1 The Central Government may appoint one or more Assistant Public Prosecutors for the purpose of conducting any case or class of cases in the Courts of Magistrates.]
(2) Save as otherwise provided in sub- section (3), no police officer shall be eligible to be appointed as an Assistant Public Prosecutor.
(3) Where no Assistant Public Prosecutor is available for the purposes of any particular case, the District Magistrate may appoint any other person to be the Assistant Public Prosecutor in charge of that case; Provided that a police officer shall not be so appointed-

(a) if he has taken any part in the investigation into the offence with respect to which the accused being prosecuted; or
(b) if he is below the rank of Inspector.

धारा 25 CrPC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here