Home LAW धारा 184 CrPC | Section 184 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 184 CrPC | Section 184 CrPC in Hindi | CrPC Section 184

1177
0
section 184 CrPC in Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “एक साथ विचारणीय अपराधों के लिए विचारण का स्थान | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 184 क्या है | section 184 CrPC in Hindi | Section 184 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 184 |  Place of trial for offences triable together के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 184 |  Section 184 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 184 in Hindi ] –

एक साथ विचारणीय अपराधों के लिए विचारण का स्थान–

जहाँ-

(क) किसी व्यक्ति द्वारा किए गए अपराध ऐसे हैं कि प्रत्येक ऐसे अपराध के लिए धारा 219, धारा 220 या धारा 221 के उपबंधों के आधार पर एक ही विचारण में उस पर आरोप लगाया जा सकता है और उसका विचारण किया जा सकता है, अथवा

(ख) कई व्यक्तियों द्वारा किया गया अपराध या किए गए अपराध ऐसे हैं कि उनके लिए उन पर धारा 223 के उपबंधों के आधार पर एक साथ आरोप लगाया जा सकता है और विचारण किया जा सकता है,

वहां अपराध की जांच या विचारण ऐसे न्यायालय द्वारा किया जा सकता है जो उन अपराधों में से किसी की जांच या विचारण करने के लिए सक्षम है।

धारा 184 CrPC

[ CrPC Sec. 184 in English ] –

“Place of trial for offences triable together”–

Where-

(a) the offences committed by any person are such that he may be charged with and tried at one trial for, each such offence by virtue of the provisions of section 219, section 220 or section 221, or
(b) the offence of offences committed by several persons are such that they may be charged with and tried together by virtue of the provisions of section 223,
the offences may be inquired into or tried by any Court competent to inquire into or try any of the offences.

धारा 184 CrPC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here