Home ALL POST भू राजस्व संहिता भाग १ | Mp land revenue code 1959 part...

भू राजस्व संहिता भाग १ | Mp land revenue code 1959 part 1

2120
0

भू राजस्व संहिता भाग १ | Mp land revenue code 1959 part 1

Mp land revenue code 1959 part 1

(१)  मध्यप्रदेश भू राजस्व संहिता कब से प्रभाव में आई –

अ- 2 अक्टूबर 1959

ब- 15 सितम्बर 1959

स -14 अगस्त 1959

द- 2 दिसंबर 1959

 

(२) मध्यप्रदेश भू राजस्व संहिता का प्रभाव होगा –

अ- भुतलक्षी

ब- भविष्यलक्षी

स- भुतलक्षी और भविष्यलक्षी  दोनों

द- इनमे से कोई नहीं

(३)  आबादी को किस धारा में परिभाषित किया गया है ?

अ- 2(अ)

ब- 2(द)

स- 3(घ)

द- 2(ख)

 

(४)  कृषि में सम्मिलित नहीं है ?

अ – सिंघाड़े की फसल

ब- घास की कृषि

स- फलों की खेती

द- सगोन का उधान

(५)  कृषि वर्ष प्रारंभ होता है ?

अ- 1 जुलाई से

ब- 1 जून से

स- एक सितम्बर से

द- 1 अक्टूबर से

 

(६)  स्वयं की खेती करने से तात्पर्य –

अ- स्वयं के पर्यवेक्षण में सेवको द्वारा या मजदूरी पर जो नगद या वस्तु के रूप में देय होगी

ब- भूमि स्वामी के बड़े लड़के के पर्यवेक्षण में मजदूरी के द्वारा नगद या वस्तु के रूप में देय मजदूरी से

स- कुटुंब के किसी भी सदस्य के खेती करने से

द- उपरोक्त सभी से

 

(७)  इमारती लकड़ी है ?

अ- चन्दन

ब- नीम

स- जामुन

द- इनमे से कोई नहीं

(८)  मध्यप्रदेश राज्य भू संहिता अधिनियमित की गयी थी – (इनमे से कौन सा सही नहीं है )

अ- 1956 से पूर्व प्रचलित विभिन्न भू -विधियों के समापन के लिए

ब- मध्यस्थो के समापन के लिए

स- मनमानी बेदखली को रोकने के लिए

द- अन्य राज्यों की विधियों के समकक्ष करने के लिए

 

(९)  मध्यप्रदेश की वर्तमान भू राजस्व संहिता बनाते समय उसमे निम्न में से किस क्षेत्र की तात्कालिक भू राजस्व विधि समेकित नहीं की गयी है ?

अ- महाकौशल

ब- मध्यभारत क्षेत्र

स- उत्तरप्रदेश

द- विन्ध्यप्रदेश क्षेत्र

 

(१०)  कृषि के अंतर्गत सम्मिलित नहीं है ?

अ- घास की खेती

ब- सिंघाड़े की फसल

स- सागवान के उधान

द- फलो के उधान

 Madhyprdesh ki nadiya | मध्यप्रदेश की नदिया

BUY

 Madhyprdesh ki nadiya | मध्यप्रदेश की नदिया

BUY

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here