धारा 406 क्या है | 406 ipc |  Punishment for criminal breach of trust

आज के इस आर्टिकल में मै आपको“धारा 406 क्या है | 406 ipc |  Punishment for criminal breach of trust के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

धारा 406 क्या है | 406 ipc

भारतीय दंड संहिता की धारा 406 के अनुसार – 

जो कोई आपराधिक न्यास भंग करेगा , वह दोनों में से किसी भी भांति के कारावास से , जिसकी अवधि तीन वर्ष तक  सकेगी , या जुर्माने से या दोनों  दण्डित किया जायेगा।

[ 406 ipc |  Punishment for criminal breach of trust ]

 Punishment for criminal breach of trust.—Whoever commits criminal breach of trust shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to three years, or with fine, or with both.

यदि आपका ”धारा 406 क्या है | 406 ipc “से सम्बंधित कोई प्रश्न है तो आप कमेट के माध्यम से हम से पूछ सकते हैं ।

 Madhyprdesh ki nadiya | मध्यप्रदेश की नदिया

BUY

 Madhyprdesh ki nadiya | मध्यप्रदेश की नदिया

BUY

 

Updated: November 1, 2019 — 10:39 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.