संविधान अनुच्छेद 347 | Article 347 of Indian Constitution in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपकोकिसी राज्य की जनसंख्या के किसी अनुभाग द्वारा बोली जाने वाली भाषाके संबंध में विशेष उपबंध | भारतीय संविधान अनुच्छेद 347  | Article 347 of Indian Constitution in Hindi | Article 347 in Hindi | भारतीय संविधान का अनुच्छेद 347 | Special provision relating to language spoken by a section of the population of a Stateके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय संविधान अनुच्छेद 347 | Article 347 of Indian Constitution in Hindi

[ Indian Constitution Article 347 in Hindi ] –

किसी राज्य की जनसंख्या के किसी अनुभाग द्वारा बोली जाने वाली भाषाके संबंध में विशेष उपबंध —

यदि इस निमित्त मांग किए जाने पर राष्ट्रपति का यह समाधान हो जाता है कि किसी राज्य की जनसंख्या का पर्याप्त भाग यह चाहता है कि उसके द्वारा बोली जाने वाली भाषा को राज्य द्वारा मान्यता दी जाए तो वह निदेश दे सकेगा कि ऐसी भाषा को भी उस राज्य में सर्वत्र या उसके किसी भाग में ऐसे प्रयोजन के लिए, जो वह विनिर्दिष्ट करे, शासकीय मान्यता दी जाए।

भारतीय संविधान अनुच्छेद 347

[ Indian Constitution Article 347 in English ] –

“Special provision relating to language spoken by a section of the population of a State”–

On a demand being made in that behalf the President may, if he is satisfied that a substantial proportion of the population of a State desire the use of any language spoken by them to be recognised by that State, direct that such language shall also be officially recognised throughout that State or any part thereof for such purpose as he may specify.


भारतीय संविधान अनुच्छेद 347

भारतीय संविधान

Pdf download in hindi

Indian Constitution

Pdf download in English


Article 1 of Indian Constitution in Hindi Article 1 of Indian Constitution in Hindi
Updated: August 21, 2020 — 8:01 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.