Home LAW धारा 77 सम्पत्ति अन्तरण | Section 77 of Transfer of property Act...

धारा 77 सम्पत्ति अन्तरण | Section 77 of Transfer of property Act Hindi

695
0
Section 77 of Transfer of property Act

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “ ब्याज के बदले में प्राप्तियां | सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 77 क्या है | Section 77 Transfer of property Act in hindi | Section 77 of Transfer of property Act | धारा 77 सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम | Receipts in lieu of interest के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 77 |  Section 77 of Transfer of property Act | Section 77 Transfer of property Act in Hindi

[ Transfer of property Act Section 77 in Hindi ] –

 ब्याज के बदले में प्राप्तियां-

धारा 76 के खंड (ख), (घ), (छ) और (ज) में की कोई भी बात उन दशाओं में लागू नहीं होती जिनमें बन्धकदार और बन्धककर्ता के बीच यह संविदा है कि जितने समय सम्पत्ति बन्धकदार के कब्जे में रहेगी, बंधक-सम्पत्ति से प्राप्तियां मूलधन पर व्याज के बदले में या ऐसे व्याज और मूलधन के सुनिश्चित भागों के बदले में ली जाएंगी।

धारा 77 Transfer of property Act

[ Transfer of property Act Sec. 77 in English ] –

Receipts in lieu of interest”–

Nothing in section 76, clauses (b), (d), (g) and (h), applies to cases where there is a contract between the mortgagee and the mortgagor that the receipts from the mortgaged property shall, so long as the mortgagee is in possession of the property, be taken in lieu of interest on the principal money, or in lieu of such interest and defined portions of the principal.

धारा 77 Transfer of property Act 

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम  

Pdf download in hindi

Transfer of property Act

Pdf download in English 

Pocso Act sections list Domestic violence act sections list

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here