भारतीय वन अधिनियम धारा 48 | Section 48 of Indian Forest Act in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपको ” जिसका दावा नहीं किया गया उस इमारती लकड़ी का व्ययन | भारतीय वन अधिनियम धारा 48  | Section 48 of Indian Forest Act in Hindi | Section 48 Forest Act in Hindi | भारतीय वन अधिनियम की धारा 48 | Disposal of unclaimed timberके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय वन अधिनियम धारा 48 | Section 48 of Indian Forest Act in Hindi

[ Indian Forest Act Section 48 in Hindi ] –

जिसका दावा नहीं किया गया उस इमारती लकड़ी का व्ययन

यदि यथापूर्वोक्त ऐसा कोई कथन उपस्थित नहीं किया जाता या यदि दावेदार धारा 46 के अधीन निकाली गई सूचना द्वारा नियत रीति से या कालावधि के अन्दर दावा करने का लोप करता है या अपने द्वारा इस प्रकार दावा किए जाने और उस दावे के खारिज किए जाने पर ऐसी इमारती लकड़ी का कब्जा लेने के लिए धारा 47 द्वारा नियत अपर कालावधि के अन्दर वाद संस्थित करने का लोप करता है, तो ऐसी इमारती लकड़ी का स्वामित्व सरकार में या उस दशा में, जिसमें कि ऐसी इमारती लकड़ी धारा 47 के अधीन अन्य व्यक्ति को परिदत्त की गई है, ऐसे व्यक्ति में उन सब विल्लंगमों से मुक्त होकर निहित होगा, जिन्हें उसने सृष्ट नहीं किया है ।

भारतीय वन अधिनियम धारा 48

[ Indian Forest Act Section 48 in English ] –

Disposal of unclaimed timber”–

If no such statement is presented as aforesaid, if the claimant omits to prefer his claim in the manner and within the period fixed by the notice issued under section 46, or on such claim having been so preferred by him and having been rejected, omits to institute a suit to recover possession of such timber within the further period fixed by section 47, the ownership of such timber shall vest in the Government, or, when such timber has been delivered to another person under section 47, in such other person free from all encumbrances not created by him. 

भारतीय वन अधिनियम धारा 48


भारतीय वन अधिनियम 1927  

PDF download in Hindi

Indian Forest Act 1927

PDF download in English 


Section 1 Forest Act in Hindi Section 1 Forest Act in Hindi
Updated: August 24, 2020 — 7:27 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.