Home LAW कंपनी अधिनियम धारा 3 | Section 3 of Companies Act in Hindi

कंपनी अधिनियम धारा 3 | Section 3 of Companies Act in Hindi

79
0
Section 3 of Companies Act in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपको ” कंपनी का बनाया जाना | कंपनी अधिनियम धारा 3  | Section 3 of Companies Act in Hindi | कंपनी अधिनियम की धारा 3 | के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

Section 3 of Companies Act in Hindi

[ Companies Act Sec. 3 in Hindi ] –

कंपनी का बनाया जाना –

(1) कोई कंपनी, किसी विधिमान्य प्रयोजन के लिए.

(क) जहां बनाई जाने वाली कंपनी पब्लिक कंपनी है, वहां सात या अधिक व्यक्तियों द्वारा; .

(ख) जहां बनाई जाने वाली कंपनी प्राइवेट कंपनी है, वहां दो या अधिक व्यक्तियों द्वारा; या

(ग) जहां बनाई जाने वाली कंपनी एक व्यक्ति कंपनी है अर्थात्, प्राइवेट कंपनी, वहां एक व्यक्ति द्वारा, किसी ज्ञापन में अपने नामों या नाम में हस्ताक्षर करके और रजिस्ट्रीकरण के संबंध में इस अधिनियम की अपेक्षाओं का अनुपालन करते हुए, बनाई जा सकेगी :

परंतु किसी एक व्यक्ति कंपनी का ज्ञापन ऐसे किसी अन्य व्यक्ति के नाम को, जो अभिदायी की मृत्यु या संविदा करने की असमर्थता की दशा में कंपनी का सदस्य बनेगा, विहित प्ररूप में उसकी पूर्व लिखित सहमति से उपदर्शित करेगा और ऐसे व्यक्ति की लिखित सहमति एक व्यक्ति कंपनी के निगमन के समय, उसके ज्ञापन और अनुच्छेदों के साथ रजिस्ट्रार के पास भी फाइल की जाएगी :

परंतु यह और कि ऐसा अन्य व्यक्ति अपनी सहमति को, ऐसी रीति से, जो विहित की जाए, वापस ले सकेगा :

परंतु-यह भी कि एक व्यक्ति कंपनी का सदस्य, किसी भी समय सूचना देकर, ऐसे अन्य व्यक्ति के नाम को, ऐसी रीति से, जो विहित की जाए, परिवर्तित कर सकेगा : . परंतु यह और भी कि एक व्यक्ति कंपनी के सदस्य का यह कर्तव्य होगा कि ज्ञापन में उपदर्शित करके या अन्यथा उसके द्वारा नामनिर्दिष्ट अन्य व्यक्ति के नाम में परिवर्तन की, यदि कोई हो, सूचना, ऐसे समय के भीतर और ऐसी रीति से, जो विहित की जाए, कंपनी को दे और कंपनी ऐसे किसी परिवर्तन की सूचना, ऐसे समय के भीतर और ऐसी रीति से, जो विहित की जाए, रजिस्ट्रार को देगी :

परंतु यह भी कि व्यक्ति के नाम में ऐसे किसी परिवर्तन को ज्ञापन का परिवर्तन नहीं समझा जाएगा ।

(2) उपधारा (1) के अधीन बनाई गई कोई कंपनी या तो

(क) शेयरों द्वारा परिसीमित कंपनी; या

(ख) प्रत्याभूति द्वारा सीमित कंपनी; या

(ग) कोई अपरिसीमित कंपनी, हो सकेगी।

कंपनी अधिनियम धारा 3

[ Companies Act Section 3 in English ] –

Formation of company ”–

 (1) A company may be formed for any lawful purpose by— (a) seven or more persons, where the company to be formed is to be a public company;

(b) two or more persons, where the company to be formed is to be a private company; or 

(c) one person, where the company to be formed is to be One Person Company that is to say, a  private company, 

by subscribing their names or his name to a memorandum and complying with the requirements of this  Act in respect of registration: 

Provided that the memorandum of One Person Company shall indicate the name of the other person,  with his prior written consent in the prescribed form, who shall, in the event of the subscriber‘s death or  his incapacity to contract become the member of the company and the written consent of such person  shall also be filed with the Registrar at the time of incorporation of the One Person Company along with  its memorandum and articles: 

Provided-further that such other person may withdraw his consent in such manner as may be  prescribed: 

Provided also that the member of One Person Company may at any time change the name of such  other person by giving notice in such manner as may be prescribed: 

Provided-also that it shall be the duty of the member of One Person Company to intimate the  company the change, if any, in the name of the other person nominated by him by indicating in the  memorandum or otherwise within such time and in such manner as may be prescribed, and the company  shall intimate the Registrar any such change within such time and in such manner as may be prescribed: 

Provided also that any such change in the name of the person shall not be deemed to be an alteration  of the memorandum. 

(2) A company formed under sub-section (1) may be either— 

(a) a company limited by shares; or 

(b) a company limited by guarantee; or 

(c) an unlimited company. 

कंपनी अधिनियम धारा 3


कंपनी अधिनियम 2013  

PDF download in Hindi

Companies Act 2013 PDF

Pdf download in English 


Section 1 Forest Act in Hindi Section 1 Forest Act in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here