Home LAW धारा 290 CrPC | Section 290 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 290 CrPC | Section 290 CrPC in Hindi | CrPC Section 290

3740
0

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “विदेशी कमीशनों का निष्पादन | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 290 क्या है | section 290 CrPC in Hindi | Section 290 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 290 | Execution of foreign commissionsके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 290 |  Section 290 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 290 in Hindi ] –

कार्यवाही का स्थगन–

(1) धारा 286 के उपबंध और धारा 287 और धारा 288 के उतने भाग के उपबंध, जितना कमीशन का निष्पादन किए जाने और उसके लौटाए जाने से संबंधित है, इसमें इसके पश्चात् वर्णित किन्हीं न्यायालयों, न्यायाधीशों या मजिस्ट्रेटों द्वारा जारी किए गए कमीशनों के बारे में वैसे ही लागू होंगे जैसे वे धारा 284 के अधीन जारी किए गए कमीशनों को लागू होते है। (2) उपधारा (1) में निर्दिष्ट न्यायालय, न्यायाधीश और मजिस्ट्रेट निम्नलिखित हैं

(क) भारत के ऐसे क्षेत्र के अन्दर, जिस पर इस संहिता का विस्तार नहीं है, अधिकारिता का प्रयोग करने वाला ऐसा न्यायालय, न्यायाधीश या मजिस्ट्रेट जिसे केन्द्रीय सरकार, अधिसूचना द्वारा, इस निमित्त विनिर्दिष्ट करे;

(ख) भारत से बाहर के किसी ऐसे देश या स्थान में, जिसे केन्द्रीय सरकार, अधिसूचना द्वारा, इस निमित्त विनिर्दिष्ट करे, अधिकारिता का प्रयोग करने वाला और उस देश या स्थान में प्रवृत्त विधि के अधीन आपराधिक मामलों के संबंध में साक्षियों की परीक्षा के लिए कमीशन जारी करने का प्राधिकार रखने वाला न्यायालय, न्यायाधीश या मजिस्ट्रेट।

धारा 290 CrPC

[ CrPC Sec. 290 in English ] –

“ Execution of foreign commissions”–

  1. The provisions of section 286 and so much of section 287 and section 288 as relate to the execution of a commission and its return shall apply in respect of commissions issued by any of the Courts, Judges or Magistrates hereinafter mentioned as they apply to commissions issued under section 284.
  2. The Courts, Judges and Magistrates referred to in Sub-Section (1) are;
    1. any such Court, Judge or Magistrate exercising jurisdiction within an area in India to which this Code does not extend, as the Central Government may, by notification, specify in this behalf;
    2. any Court, Judge or Magistrate exercising jurisdiction in any such country or place outside India, as the Central Government may, by notification, specify in this behalf, and having authority under the law in force in that country or place, to issue commissions for the examination of witnesses in relation to criminal matters.

धारा 290 CrPC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here