धारा 28 हिन्दू विवाह | Section 28 of Hindu Marriage Act Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “ डिक्रियों और आदेशों की अपीलें | हिन्दू विवाह अधिनियम की धारा 28 क्या है | Section 28 Hindu Marriage Act in Hindi | Section 28 of Hindu Marriage Act | धारा 28 हिन्दू विवाह अधिनियम | Appeals from decrees and orders के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

हिन्दू विवाह अधिनियम की धारा 28 |  Section 28 of Hindu Marriage Act | Section 28 Hindu Marriage Act in Hindi

[ Hindu Marriage Act Section 28 in Hindi ] –

” डिक्रियों और आदेशों की अपीलें”

(1) इस अधिनियम के अधीन किसी कार्यवाही में न्यायालय द्वारा दी गई सभी डिक्रियाँ, उपधारा (3) के उपबंधों के अधीन रहते हुए उसी प्रकार अपीलनीय होंगी जैसे न्यायालय द्वारा अपनी आरंभिक सिविल अधिकारिता के प्रयोग में दी गई डिक्री अपीलनीय होती है और ऐसी हर अपील उस न्यायालय में होगी जिसमें उस न्यायालय द्वारा अपनी आरंभिक सिविल अधिकारिता के प्रयोग में किए गए विनिश्चयों की अपीलें सामान्यतः होती हैं।

(2) धारा 25 या धारा 26 के अधीन किसी कार्यवाही में न्यायालय द्वारा किए गए आदेश, उपधारा (3) के उपबन्धों के अधीन रहते हुए, तभी अपीलीय होंगे जब वे अन्तरिम आदेश न हों और ऐसी हर अपील उस न्यायालय में होगी जिसमें उस न्यायालय द्वारा अपनी आरंभिक सिविल अधिकारिता के प्रयोग में किए गए विनिश्चयों की अपीलें सामान्यतः होती हैं।

(3) केवल खर्चे के विषय में कोई अपील इस धारा के अधीन नहीं होगी।

(4) इस धारा के अधीन हर अपील डिक्री या आदेश की तारीख से नब्बे दिन की कालावधि के अन्दर की जाएगी।

धारा 28 Hindu Marriage Act

[ Hindu Marriage Act Sec. 28 in English ] –

Appeals from decrees and orders”–

(1) All decrees made by Court in any proceeding under this Act shall, subject to the provisions of sub-section (3), be appealable as decrees of the Court made in the exercise of its original civil jurisdiction and every such appeal shall lie to the Court to which appeals ordinarily lie from the decisions of the Court given in the exercise of its original civil jurisdiction. 

(2) Orders made by the Court in any proceedings under this Act, under Section 25 or Section 26 shall, subject to the provisions of sub-section (3), be appealable if they are not interim orders and every such appeal shall lie to the Court to which appeals ordinarily lie from the decisions of the Court given in exercise of its original civil jurisdiction. 

(3) There shall be no appeal under this section on subject of costs only. 

(4) Every appeal under this section shall be preferred within a period of thirty days from the date of the decree or order. 

धारा 28 Hindu Marriage Act


हिन्दू विवाह अधिनियम  

PDF download in Hindi

Hindu Marriage Act

Pdf download in English 

Section 2 of Hindu Marriage Act Ipc sections
Section 2 of Hindu Marriage Act Section 1 of Child Labour Act
Section 2 of Hindu Marriage Act Section 1 of Child Labour Act
Section 2 of Hindu Marriage Act Section 1 of Child Labour Act
Section 2 of Hindu Marriage Act Section 1 of Child Labour Act
Section 2 of Hindu Marriage Act Section 1 of Child Labour Act

 

Updated: June 9, 2020 — 6:46 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.