Home LAW धारा 251 CrPC | Section 251 CrPC in Hindi | CrPC Section...

धारा 251 CrPC | Section 251 CrPC in Hindi | CrPC Section 251

2666
0
section 251 CrPC in Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “अभियोग का सारांश बताया जाना | दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 251 क्या है | section 251 CrPC in Hindi | Section 251 in The Code Of Criminal Procedure | CrPC Section 251 | Substance of accusation to be stated  के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 251 |  Section 251 in The Code Of Criminal Procedure

[ CrPC Sec. 251 in Hindi ] –

अभियोग का सारांश बताया जाना—

जब समन-मामले में अभियुक्त मजिस्ट्रेट के समक्ष हाजिर होता है या लाया जाता है, तब उसे उस अपराध की विशिष्टियां बताई जाएंगी जिसका उस पर अभियोग है, और उससे पूछा जाएगा कि क्या वह दोषी होने का अभिवाक् करता है अथवा प्रतिरक्षा करना चाहता है ; किन्तु यथा रीति आरोप विरचित करना आवश्यक न होगा।

धारा 251 CrPC

[ CrPC Sec. 251 in English ] –

“ Substance of accusation to be stated  ”–

When in a summons- case the accused appears or is brought before the Magistrate, the particulars of the offence of which he is accused shall be stated to him, and he shall be asked whether he pleads guilty or has any defence to make, but it shall not be necessary to frame a formal charge.

धारा 251 CrPC

  •  Mp rashtriy udhan part 1

    BUY

     

    BUY

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here