भारतीय वन अधिनियम धारा 22 | Section 22 of Indian Forest Act in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपको ” धारा 15 या 18 के अधीन किए गए प्रबन्ध का पुनरीक्षण करने की शक्ति | भारतीय वन अधिनियम धारा 22  | Section 22 of Indian Forest Act in Hindi | Section 22 Forest Act in Hindi | भारतीय वन अधिनियम की धारा 22 | Power to revise arrangement made under section 15 or section 18के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय वन अधिनियम धारा 22 | Section 22 of Indian Forest Act in Hindi

[ Indian Forest Act Section 22 in Hindi ] –

धारा 15 या 18 के अधीन किए गए प्रबन्ध का पुनरीक्षण करने की शक्ति

राज्य सरकार धारा 15 या 18 के अधीन किए गए किसी प्रबन्ध का पुनरीक्षण धारा 20 के अधीन किसी अधिसूचना के प्रकाशन से पांच वर्ष के अन्दर कर सकेगी और धारा 15 या धारा 18 के अधीन किए गए किसी आदेश को इस प्रयोजन के लिए विखण्डित या उपांतरित कर सकेगी और निदेश दे सकेगी कि धारा 15 में विनिर्दिष्ट कार्यवाहियों में से कोई कार्यवाही ऐसी कार्यवाहियों में से किसी अन्य के बदले में की जाए या धारा 12 के अधीन मंजूर किए गए अधिकारों का धारा 16 के अधीन रूपान्तरण किया जाए ।

भारतीय वन अधिनियम धारा 22

[ Indian Forest Act Section 22 in English ] –

Power to revise arrangement made under section 15 or section 18”–

The State Government may, within five years from the publication of any notification under section 20, revise any arrangement made under section 15 or section 18, and may for this purpose rescind or modify any order made under 

section 15 or section 18, and direct that any one of the proceedings specified in section 15 be taken in lieu of any other of such proceedings, or that the rights admitted under section 12 be commuted under section 16. 

भारतीय वन अधिनियम धारा 22


भारतीय वन अधिनियम 1927  

PDF download in Hindi

Indian Forest Act 1927

PDF download in English 


Section 1 Forest Act in Hindi Section 1 Forest Act in Hindi
Updated: August 23, 2020 — 6:07 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.