Home LAW कंपनी अधिनियम धारा 15 | Section 15 of Companies Act in Hindi

कंपनी अधिनियम धारा 15 | Section 15 of Companies Act in Hindi

261
0
Section 15 of Companies Act in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपको ” ज्ञापन और अनुच्छेदों के परिवर्तन को प्रत्येक प्रति में नोट किया जाना | कंपनी अधिनियम धारा 15  | Section 15 of Companies Act in Hindi | कंपनी अधिनियम की धारा 15 | के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

Section 15 of Companies Act in Hindi

[ Companies Act Sec. 15 in Hindi ] –

ज्ञापन और अनुच्छेदों के परिवर्तन को प्रत्येक प्रति में नोट किया जाना

 (1) किसी कंपनी के ज्ञापन या अनुच्छेदों में किए गए प्रत्येक परिवर्तन को, यथास्थिति, ज्ञापन या अनुच्छेदों की प्रत्येक प्रति में नोट किया जाएगा ।

(2) यदि कोई कंपनी, उपधारा (1) के उपबंधों के अनुपालन में कोई व्यतिक्रम करती है, तो कंपनी और ऐसा प्रत्येक अधिकारी, जो व्यतिक्रमी है, ऐसे परिवर्तन के बिना जारी किए गए ज्ञापन या अनुच्छेदों की प्रत्येक प्रति के लिए एक हजार रुपए की शास्ति के लिए दायी होगी ।

कंपनी अधिनियम धारा 15

[ Companies Act Section 15  in English ] –

 Alteration of memorandum or articles to be noted in every copy ”–

(1) Every alteration made  in the memorandum or articles of a company shall be noted in every copy of the memorandum or articles,  as the case may be. 

(2) If a company makes any default in complying with the provisions of sub-section (1), the company  and every officer who is in default shall be liable to a penalty of one thousand rupees for every copy of  the memorandum or articles issued without such alteration. 

कंपनी अधिनियम धारा 15


कंपनी अधिनियम 2013  

PDF download in Hindi

Companies Act 2013 PDF

Pdf download in English 


Section 1 Forest Act in Hindi Section 1 Forest Act in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here