धारा 14 सम्पत्ति अन्तरण | Section 14 of Transfer of property Act Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “शाश्वतता के विरुद्ध नियम | सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 14 क्या है | Section 14 Transfer of property Act in hindi | Section 14 of Transfer of property Act | धारा 14 सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम | Rule against perpetuityके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम की धारा 14 |  Section 14 of Transfer of property Act | Section 14 Transfer of property Act in Hindi

[ Transfer of property Act Section 14 in Hindi ] –

शाश्वतता के विरुद्ध नियम–

कोई भी सम्पत्ति-अन्तरण ऐसा हित सृष्ट करने के लिए प्रवृत्त नहीं हो सकता जो ऐसे अन्तरण की तारीख को जीवित एक या अधिक व्यक्तियों के जीवन काल के, और किसी व्यक्ति की, जो उस कालावधि के अवसान के समय अस्तित्व में हो, जिसे यदि वह पूर्ण वय प्राप्त करे तो वह सृष्ट हित मिलना हो, अप्राप्तवयता के पश्चात् प्रभावी होना है।

धारा 14 Transfer of property Act

[ Transfer of property Act Sec. 14 in English ] –

Rule against perpetuity”–

No transfer of property can operate to create an interest which is to take effect after the lifetime of one or more persons living at the date of such transfer, and the minority of some person who shall be in existence at the expiration of that period, and to whom, if he attains full age, the interest created is to belong.

धारा 14 Transfer of property Act 

सम्पत्ति अन्तरण अधिनियम  

Pdf download in hindi

Transfer of property Act

Pdf download in English 

Pocso Act sections listDomestic violence act sections list
Updated: May 23, 2020 — 7:15 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.