संविधान अनुच्छेद 355 | Article 355 of Indian Constitution in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपकोवाह्य आक्रमण और आंतरिक अशांति से राज्य की संरक्षा करने का संघ का कर्तव्य | भारतीय संविधान अनुच्छेद 355  | Article 355 of Indian Constitution in Hindi | Article 355 in Hindi | भारतीय संविधान का अनुच्छेद 355 | Duty of the Union to protect States against external aggression and internal disturbanceके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय संविधान अनुच्छेद 355 | Article 355 of Indian Constitution in Hindi

[ Indian Constitution Article 355 in Hindi ] –

वाह्य आक्रमण और आंतरिक अशांति से राज्य की संरक्षा करने का संघ का कर्तव्य–

संघ का यह कर्तव्य होगा कि वह वाह्य आक्रमण और आंतरिक अशांति से प्रत्येक राज्य की संरक्षा करे और प्रत्येक राज्य की सरकार का इस संविधान के उपबंधों के अनुसार चलाया जाना सुनिाश्चित करे ।

भारतीय संविधान अनुच्छेद 355

[ Indian Constitution Article 355 in English ] –

“Duty of the Union to protect States against external aggression and internal disturbance”–

It shall be the duty of the Union to protect every State against external aggression and internal disturbance and to ensure that the Government of every State is carried on in accordance with the provisions of this Constitution


भारतीय संविधान अनुच्छेद 355

भारतीय संविधान

Pdf download in hindi

Indian Constitution

Pdf download in English


Article 1 of Indian Constitution in Hindi Article 1 of Indian Constitution in Hindi
Updated: August 22, 2020 — 9:04 am

Leave a Reply

Your email address will not be published.