संविधान अनुच्छेद 262 | Article 262 of Indian Constitution in Hindi

आजके इस आर्टिकल में मैआपकोअंतरराज्यिक  नदियों या नदी-दूनों के जल संबंधी विवादों का न्यायनिर्णयन | भारतीय संविधान अनुच्छेद 262 | Article 262 of Indian Constitution in Hindi | Article 262 in Hindi | भारतीय संविधान का अनुच्छेद 262 | Adjudication of disputes relating to waters of interState rivers or river valleysके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय संविधान अनुच्छेद 262 | Article 262 of Indian Constitution in Hindi

[ Indian Constitution Article 262 in Hindi ] –

अंतरराज्यिक नदियों या नदी-दूनों के जल संबंधी विवादों का न्यायनिर्णयन–

(1) संसद्, विधि द्वारा, किसी अंतरराज्यिक  नदी या नदी-दून के या उसमें जल के प्रयोग, वितरणया नियंत्रण के संबंध में किसी विवाद या परिवाद  के न्यायनिर्णयन के लिए उपबंध कर सकेगी ।

(2) इस संविधान में किसी बात के होते हुए  भी, संसद्, विधि द्वारा, उपबंध कर सकेगी कि उच्चतम न्यायालय या कोई अन्य न्यायालय खंड (1) में निर्दिष्ट किसी विवाद या परिवाद  के संबंध में अधिकारिता का प्रयोग नहीं करेगा ।

भारतीय संविधान अनुच्छेद 262

[ Indian Constitution Article 262 in English ] –

“Adjudication of disputes relating to waters of interState rivers or river valleys ”–

(1) Parliament may by law provide for the adjudication of any dispute or complaint with respect to the use, distribution or control of the waters of, or in, any inter-State river or river valley.

(2) Notwithstanding anything in this Constitution, Parliament may by law provide that neither the Supreme Court nor any other court shall exercise jurisdiction in respect of any such dispute or complaint as is referred to in clause (1).


भारतीय संविधान अनुच्छेद 262

भारतीय संविधान

Pdf download in hindi

Indian Constitution

Pdf download in English


Article 1 of Indian Constitution in Hindi Article 1 of Indian Constitution in Hindi
Updated: August 19, 2020 — 3:33 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.