संविधान अनुच्छेद 137 | Article 137 of Indian Constitution in Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको निर्णयों या आदेशों का उच्चतम न्यायालयों द्वारा पुनार्विलोकन | भारतीय संविधान अनुच्छेद 137 | Article 137 of Indian Constitution in Hindi | Article 137 in Hindi | भारतीय संविधान का अनुच्छेद 137 | Review of judgments or orders by the Supreme Courtके विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय संविधान अनुच्छेद 137 | Article 137 of Indian Constitution in Hindi

[ Indian Constitution Article 137 in Hindi ] –

निर्णयों या आदेशों का उच्चतम न्यायालयों द्वारा पुनार्विलोकन–

संसद द्वारा बनाई गई किसी विधि के या अनुच्छेद 145 के अधीन बनाएं गए नियमों के उपबंधों के अधीन रहते हुए, उच्चतम न्यायालय को अपने द्वारा सुनाएं गए निर्णय या दिए गए आदेश का पुनार्विलोकन करने की शक्ति होगी ।

भारतीय संविधान अनुच्छेद 137

[ Indian Constitution Article 137 in English ] –

Review of judgments or orders by the Supreme Court”–

Subject to the provisions of any law made by Parliament or any rules made under article 145, the Supreme Court shall have power to review any judgment pronounced or order made by it.


भारतीय संविधान अनुच्छेद 137

भारतीय संविधान

Pdf download in hindi

Indian Constitution

Pdf download in English


Article 1 of Indian Constitution in Hindi Article 1 of Indian Constitution in Hindi
Updated: August 13, 2020 — 10:48 am

Leave a Reply

Your email address will not be published.