Home LAW धारा 475 क्या है | 475 IPC in Hindi | IPC Section...

धारा 475 क्या है | 475 IPC in Hindi | IPC Section 475

1379
0
475 Ipc in Hindi

आज के इस आर्टिकल में मै आपको “ धारा 467 में वर्णित दस्तावेजों के अधिप्रमाणीकरण के लिए उपयोग में लाई जाने वाली अभिलक्षणा या चिह्न की कूटकृति बनाना या कूटकृत चिह्नयुक्त पदार्थ को कब्जे में रखना | भारतीय दंड संहिता की धारा 475 क्या है | 475 Ipc in Hindi | IPC Section 475 | Counterfeiting device or mark used for authenticating docu­ments described in section 467, or possessing counterfeit marked material के विषय में बताने जा रहा हूँ आशा करता हूँ मेरा यह प्रयास आपको जरुर पसंद आएगा । तो चलिए जानते है की –

भारतीय दंड संहिता की धारा 475 क्या है | 475 Ipc in Hindi

[ Ipc Sec. 475 ] हिंदी में –

धारा 467 में वर्णित दस्तावेजों के अधिप्रमाणीकरण के लिए उपयोग में लाई जाने वाली अभिलक्षणा या चिह्न की कूटकृति बनाना या कूटकृत चिह्नयुक्त पदार्थ को कब्जे में रखना-

जो कोई किसी पदार्थ के ऊपर या उसके उपादान में, किसी ऐसी अभिलक्षणा या चिह्न की, जिसे इस संहिता की धारा 467 में वर्णित किसी दस्तावेज के अधिप्रमाणीकरण के प्रयोजन के लिए. उपयोग में लाया जाता हो. कूटकृति यह आशय रखते हुए बनाएगा कि ऐसी अभिलक्षणा या ऐसे चिह्न की, ऐसे पदार्थ पर उस समय कूटरचित की जा रही या उसके पश्चात् कूटरचित की जाने वाली किसी दस्तावेज को अधिप्रमाणीकृत का आभास प्रदान करने के प्रयोजन से उपयोग में लाया जाएगा या जो ऐसे आशय से कोई ऐसा पदार्थ अपने कब्जे में रखेगा, जिस पर या जिसके उपादान में ऐसी अभिलक्षणा को या ऐसे चिन की कूटकृति बनाई गई हो, वह [आजीवन कारावास से, या दोनों में से किसी भांति के कारावास से, जिसकी अवधि सात वर्ष तक की हो सकेगी, दण्डित किया जाएगा और जुर्माने से भी दण्डनीय होगा |

475 Ipc in Hindi

[ Ipc Sec. 475 ] अंग्रेजी में –

“  Counterfeiting device or mark used for authenticating docu­ments described in section 467, or possessing counterfeit marked material  ”–

Whoever counterfeits upon, or in the substance of, any material, any device or mark used for the purpose of authenticat­ing any document described in section 467 of this Code, intending that such device or mark shall be used for the purpose of giving the appearance of authenticity to any document then forged or thereafter to be forged on such material, or who, with such intent, has in his possession any material upon or in the sub­stance of which any such device or mark has been counterfeited, shall be punished with 1[imprisonment for life], or with impris­onment of either description for a term which may extend to seven years, and shall also be liable to fine.

475 Ipc in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here